The Past is a stepping stone, not a millstone : अतीत पर पक्षतावा आपके लिए बेमानी है

किसी ने सच कहा है कि हमारा भविष्य हमारा वर्तमान तय करता है फिर ना जाने लोग क्यों अपने अतीत को लेकर अपने आपको कोसते रहते है । जो बीत चुका है वह वापस तो नहीं आ सकता । फिर उसको बार बार दोहरा कर अपने वर्तमान को परेशानी में क्यों डालते हो । वर्तमान आपकी सबसे बड़ी पूंजी है आपके भविष्य के लिए ।

पक्षतावा नहीं सबक लीजिए

अब अगर आप अतीत के बारे में सोचेंगे कि काश ऐसा होता या काश वैसा होता । इस पर समय नष्ट न करके वर्तमान को सुधारने को कोशिश करें ना की अतीत को वर्तमान के जीवन में मिश्रण करें अतीत सीखने के लिए होता है वर्तमान भविष्य बनाने के लिए । जिसने इसे समझ लिया उसका जीवन सरल हो गया । हम सभी कभी न कभी यह जरूर सोचते है कि अमुक व्यक्ति ऐसा क्यों है और हम ऐसे क्यों नहीं । इसका जवाब आपके पास है बस उसे तलाशने की कोशिश कीजिए ।

आप जैसा सोच रहे है वैसी भिन्नता सामाजिक , आर्थिक और वैचारिक रूप में किसी भी तरह की हो सकती है सबसे सरल उत्तर यह है कि हमारे अतीत में लिए गए फैसले और चुनाव हमारे वर्तमान का निर्माण करते है मसलन अगर आपने अतीत में आम का बीज बोया है तो वर्तमान में आम का पेड़ ही उगेगा ।इसीलिए अतीत के कर्म और फैसले हमारे वर्तमान को प्रभावित करते है दिलचस्प यह है ये फैसले किसी भी चीज के बारे में हो सकते है ।आइए आपको बताते है कुछ कदम जो समय रहते अगर आप उठाते है तो आपके भविष्य पर उसका क्या प्रभाव पड़ेगा ।

जिंदगी में जैसा आप सोचते है ठीक वैसा नहीं होता । उसके विपरीत होता है और हमें आने वाली चुनौती से निपटने के लिए तैयार रहना चाहिए । कभी कभी हम कुछ फैसले भविष्य के प्रति बहुत आशावान होकर लेते है तो कभी कुछ फैसले स्वार्थी बनकर । हम सोचते है इस फैसले से भला किसी का क्या नुकसान होगा। उस मौजूदा समय में हम सिर्फ अपनी खुशी तलाश रहे होते है। जीवन है जहां कुछ लोग साथ छोड़ते है तो कुछ लोग साथ जोड़ते है मगर हमें जीवन में अपने दम पर आगे बढ़ना होता है तो हम किसी की बात क्यों माने । अतीत के फैसले वर्तमान में जरूर नजर आते है ।

काश अगर ऐसा होता

दुनिया में किसी से उम्मीद करना ठीक नहीं होता । अगर विपत्ति की घड़ी में हम अपने जीवन का आकलन करने लगते है और कुछ समय के लिए सोचने पर मजबूर हो जाते है कि काश ऐसा नहीं किया होता । तो आज जीवन बेहतर होता । अगर अतीत में कुछ अच्छे फैसले लिए होते तो आज जो परेशान देखनी पड़ रही है वह शायद नहीं होती । पर जीवन की सच्चाई यह है कि जो बीत चुका है उसको बार बार दोहरा कर वर्तमान को सुधारा नहीं जा सकता ।। इसलिए ये आप छोड़ दीजिए कि काश ये होता काश वो होता । जीवन आशा से नहीं कड़े कठोर फैसलों से चलता है ।

स्वयं को तैयार करना सीखें

सबसे पहले अपने को खुश रखें तभी दूसरों को खुश रख पाएंगे । हमेशा पॉजिटिव सोचें । क्योंकि कभी कभी जीवन में कुछ ऐसा घटित हो जाता है जैसे देखते देखते और समझते हुए भी स्वीकार नहीं करना चाहते । यह दुख किसी भी प्रकार का हो सकता है दुनिया में बहुत लोग ऐसे है कि अपने पिछले किसी बुरे कर्म की वजह से वर्तमान में दुखी होते है। जिंदगी में कोई भी फैसला ले उसके लिए जल्दबाजी मत दिखाए ।

जीवन एक ऐसी यात्रा है जिसमे अनेक मोड़ और उतार चड़ाव आते है कभी कभी कुछ ऐसी समस्या सामने आ जाती है जिसकी कल्पना हमने की भी नहीं होती ।जो हमें एक दोहराए पर लाकर खड़ी कर देती है ऐसे समय में दिल से कुछ आवाज आती है तो दिमाग कुछ बोलता है । हमें चुनौती से निपटना सीखना होगा और सोच समझकर फैसले लेने होंगे । हां एक चीज का मलाल जरूर रहता है और सोचते है कि काश अतीत की गलतियों को सुधार पाते । इसलिए सही राह चुने सही फैसले लें

Leave a Comment