Miss Universe Harnaaz Sandhu 2021 – भारत की हरनाज संधू बनी 2021 की मिस यूनिवर्स

Miss Universe Harnaaz Sandhu 2021 – किसी भी चीज को पाने में अगर मेहनत , जज्बा ,जुनून , हौसला का मिश्रण हो तो नामुमकिन चीज चीज मुमकिन लगती है । सफलता उम्र की मोहताज नहीं होती । कुछ ऐसा ही कर दिखाया है पंजाब की हरनाज़ संधू ने जिन्होंने भारत को गौरवांवित किया है दरअसल हरनाज सिंधू 21 साल बाद भारत की तरफ से मिस यूनिवर्स जीतने वाली महिला है मतलब साफ है कि पिछले 21 सालों बाद भारत की झोली में मिस यूनिवर्स का खिताब आया है इजरायल के एलात में 70वीं मिस यूनिवर्स 2021 (Miss Universe 2021)की प्रतियोगिता आयोजित की गई थी जिसमें एक मात्र हरनाज संधू (Harnaaz Sandhu ) भारतीय प्रतियोगी थी । वहीं अन्य देशों से कई महिलाएं थीं । ज्यादा देर न करते हुए आइए आपको बताते है कि आखिर भारत की बेटी हरनाज संधू ने किसे हराकर खिताब जीता साथ ही संधू के अब तक के पूरे सफ़र के बारे में भी बताएंगे ।

हरनाज संधू का सफ़र और खिताब

Harnaaz Sandhu Miss Universe 2021
Harnaaz Sandhu Miss Universe 2021

भारत की बेटी और पंजाब की रहने वाली हरनाज संधू ने पराग्वे कि नादिया फरेरा और दक्षिण अफ्रीका की लालेला मसवाने को हराकर खिताब अपने नाम किया । संधू को ताज 2020 की मिस यूनिवर्स विजेता मैक्सिको की आंद्रेया मेजा ने पहनाया । इस तरह हरनाज संधू तीसरी मिस यूनिवर्स जीतने वाली भारतीय महिला बन गई । इससे पहले 1994 में सुष्मिता सेन और साल 2000 में लारा दत्ता ने मिस यूनिवर्स का खिताब अपने नाम किया था ।

दरअसल हरनाज संधू 17 साल की उम्र से सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग ले रही है । संधू इससे पहले इसी साल यानी 2021 में वो मिस दीवा 2021 का खिताब जीत चुकी है । इसके अलावा वो दो पंजाबी फिल्मों में भी अभिनय कर चुकी है । खिताब जीतने के बाद हरनाज संधू ने क्या कहा वो भी जान लीजिए । ” मै ईश्वर , मेरे परिजन , मेरे मिस इंडिया संगठन को आभारी मानती हूं जिन्होंने इस पूरे सफ़र में मेरा साथ दिया मेरा समर्थन किया । और मार्गदर्शक के रूप में साथ रहे । उन सबके लिए बहुत सारा प्यार उनकी वजह से मैंने ये खिताब जीता है । 21 सालों बाद यह गौरवशाली खिताब जीतने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। यह गौरव का क्षण है ।

जब हरनाज से अंतिम राउंड में पूछा गया ये

Harnaaz Sandhu Miss Universe 2021

किसी भी प्रतियोगिता के फाइनल तक का सफ़र हर किसी के लिए खास होता है और फिर खिताब के इतने नजदीक पहुंचने में खुशी तो महसूस होती है साथ ही नर्वस और थोड़ा डर का भी अहसास होता है । खैर आपको बताते है कि जब अंतिम राउंड में भारत की बेटी हरनाज संधू से कुछ सवाल पूछे गए ।तो उनका जवाब क्या था। वैसे तो अंतिम राउंड के टॉप थ्री प्रतियोगियों से पूछा गया । आज के दौर में भी कुछ महिलाएं दबाव का सामना कर रही है उन तमाम युवा महिलाओं को आप क्या सलाह देना चाहेंगी जिससे वो उसका सामना कर सकें वैसे तो इस सवाल का जवाब दो अन्य महिलाओं ने अपने अपने तरीके से दिए मगर हरनाज संधू का जवाब क्या था सुनिए ।

आज के युवा पर सबसे बड़ा दबाव खुद पर भरोसा करना है यह जानना की आप अनोखे हो ये आपको खूबसूरत बनाता है सबसे पहले आप अपने की तुलना दूसरों से करना बन्द करिए । आज पूरी दुनिया में जो हो रहा है उस पर बात करना बहुत जरूरी हो गया हैं बाहर निकलिए खुद के लिए बोलिए क्योंकि आप ही अपने जीवन के असली नेता है आप खुद की आवाज हो इसलिए मै खुद में विश्वास रखती हूं इसलिए आज मै यहां खड़ी हूं कल आप होंगे । आपको बता दे की हरनाज से पहले सिर्फ दो ही भारतीय महिला है जो मिस यूनिवर्स का खिताब अपने नाम कर चुकी है साल 1994 में बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन और साल 2000 में लारा दत्ता ने खिताब जीता था ।

Leave a Comment