Controversy : कंगना पर वरुण गांधी ने किया कटाक्ष, कहा – इसे पागलपन कहूं या देशद्रोह?, ओवैसी ने कहा ऐसा मुस्लिम कहता तो पुलिस मार देती गोली

Kangana Vs Varun Gandhi : कंगना रनौत और विवादों का पुराना ताल्लुक है। उनके बयान अक्सर विवादों में आ जाते हैं। एक बार फिर से उन्होंने कुछ ऐसी बात कह दी है जिससे बखेड़ा खड़ा हो गया है। दरसल, समाचार चैनल टाइम्स नाऊ के कार्यक्रम में कंगना ने कहा था कि सावरकर, लक्ष्मीबाई, सुभाषचंद्र बोस इन लोगों की बात करूं तो ये लोग जानते थे कि खून बहेगा लेकिन ये नहीं चाहते थे कि हिंदुस्तानी- हिंदुस्तानी का खून न बहाए। यकीनन, उन्होंने आजादी की कीमत चुकाई, पर वो आजादी नहीं थी वो भीख थी। हमें जो आजादी मिली है वो 2014 में मिली है।

कंगना की यह बात बीजेपी सांसद वरूण गांधी को बेतुकी लगी। उन्होंने इस बात ट्विटर पर आपत्ति जताई। कंगना पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने लिखा ‘कभी महात्मा गांधी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान, और अब शहीद मंगल पाण्डेय से लेकर रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आज़ाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार। इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह?’

कंगना ने किया पलटवार

कंगना ने इंस्टाग्राम पर वरुण गांधी के उस ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर किया और लिखा – ‘जबकि मैंने साफ-साफ 1857 में हुए देश के पहले स्वतंत्रता संग्राम का जिक्र किया है जो कि असफल रहा। इसकी वजह से ब्रिटिशर्स की ओर से हमें काफी अत्याचार और क्रूरता झेलनी पड़ी। …और फिर लगभग 100 सालों बाद हमें आजादी दी गई गांधी की भीख पर। जा और रो अब।’

अकाली दल के नेता ने कंगना के बयान को मानसिक दिवालियापन बताया

वरुण गांधी के अलावा विपक्षी दल भी कंगना के इस बयान को तुगलकी कह रहा है। अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कंगना के बयान को उनका मानसिक दिवालियापन बताया है। उन्होंने कंगना के बयान पर ट्वीट किया – मणिकर्णिका का रोल निभाने वाली आर्टिस्ट आज़ादी को भीख कैसे कह सकती है!!! लाखों शहादतों के बाद मिली आज़ादी को भीख कहना कंगना रनौत का मानसिक दिवालियापन है।

भाजपा प्रवक्ता निखत अब्बास ने कंगना के बयान को गलत कहा

भाजपा प्रवक्ता निखत अब्बास ने कंगना रनौत के बयान को गलत कहा। उन्होंने ट्वीट कर उनके बयान की आलोचना की। ट्विटर पर उन्होंने लिख – कंगना रनौत ने जो बयान दिया था वो गलत है। देश को आजादी भीख में नही मिली, ना जाने कितनो ने शहादत दी है। देश के लिए भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, चंद्रशेखर आजाद, सुभाष चन्द्र बोस, लक्ष्मी बाई, सरदार वल्लभ भाई पटेल कितनो ने संघर्ष किया है आजादी के लिए पर यह बात बॉलीवुड वाले नही समझेंगे।

ओवैसी ने कहा अगर कोई मुस्लमान ऐसा बोलता तो मारा जात

एआईएमआईएम (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कंगना के इस बयान की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि अगर किसी मुस्लिम ने कहा होता जो कंगना ने कहा है तो घुटने पर गोली मारकर जेल भेज दिया जाता।

कंगना के समर्थन में अभिनेता विक्रम गोखले

जहाँ हर कोई कंगना की बयान से खुद को दूर कर रहा है वहीं पर मराठी और हिंदी फिल्मों के दिग्गज अभिनेता विक्रम गोखले ने उनका खुलकर समर्थन किया है। हाल ही में विक्रम गोखले महाराष्ट्र के पुणे में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि कंगना रनौत ने जो कहा वह उससे सहमत हैं। गोखले ने आगे कहा, उस वक्त कई स्वतंत्रता सेनानियों को फांसी दी गई लेकिन बड़े लोगों ने उन्हें बचाने की कोशिश नहीं की। हमें भीख में आजादी मिली। बहुत से स्वतंत्रता सेनानी जिन्हें फांसी दी गई थी, बड़े-बड़े लोगों ने उन्हें बचाने की कोशिश नहीं की। वे मूकदर्शक बने रहे।‘

बता दें कि हाल ही में आयोजित टाइम्स नाऊ समिट के दौरान बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने एंकर नविका कुमार के ढेरों सवालों का अपने चिरपरिचित अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने यह भी बताया कि उन्हें दो नेशनल अवॉर्ड कांग्रेस शासन में मिले थे। कार्यक्रम के दौरान एक सवाल के जवाब में कंगना ने कहा कि मैं अपना सुपरस्टार पीएम नरेंद्र मोदी को मानती हूं और वह हमेशा में मेरे स्टार रहेंगे। मुझे उनसे प्रेरणा मिलती है।

Leave a Comment