Alien : क्या प्रथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन

आज विज्ञान ने भले ही कितनी तरक्की क्यों न कर ली हो मगर आज भी कुछ ऐसी अनसुलझी पहेली है जिसे विज्ञान सुलझा पाने में असमर्थ नजर आ रहा है ब्रम्हांड की दुनिया में हम दो लोक के बीच में बसे हुए है आसान भाषा में बात करें तो स्वर्ग लोक और पाताल लोक के बीच में मानव अपना जीवन व्यतीत कर रहा है लेकिन आपसे अगर एक सवाल पूछा जाएं की प्रथ्वी के अलावा भी कोई ऐसी जगह है जहां जीवन है तो आप क्या सोचेंगे । और अगर ऐसा है तो वैज्ञानिकों के लिए सबसे बड़ा सवाल यही है घुमा फिराकर बात न करते हुए असल मुद्दे पर आते है क्या आपने एलियंस को देखा है क्या एलियंस अभी भी मौजूद है अगर जवाब हां है तो आखिर कहां है दरअसल अमेरिकी सरकार ने यूएफओ से जुड़ी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अब तक प्रथ्वी पर एलियंस के आने के कोई सबूत नहीं मिले है । यह भी कहा गया है कि सबूत नहीं मिले इसका मतलब यह कतई नहीं है कि एलियंस मौजूद नहीं है । बीते कई दशकों से वैज्ञानिक इस बात को तलाश कर रहे है मगर जवाब अभी तक मिला नहीं । वैज्ञानिक प्रथ्वी से करीब चार लाईट ईयर दूर मतलब एल्फा सेंचुरी नाम के तारामंडल मे जीवन कि तलाश करने पर विचार बना रहे है कुछ ऐसे अनसुलझे सवालों के जवाब कब मिलेंगे ।

कैसे और क्यों उठे सवाल

आज दुनिया में कई वैज्ञानिक ऐसे है जो इस बात की परिकल्पना तक नहीं कर पा रहे की आखिर एलियंस के सबूत की निशान भी मिल जाए । साइंस से जुड़ी चीजों में अगर आप दिलचस्पी रखते है तो यह जानना जरूरी होता है कि आखिर विज्ञान एलियंस के पीछे क्यों लगा हुआ है । दो हजार साल पहले ना तो स्पेस ऑब्जवार्ट्री थी और ना ही अंतरिक्षयान कि कल्पना की गई थी । उस समय एक यूनानी लेखक ने प्रथ्वी से दूर जीवन होने का जिक्र किया था । उन्होंने किताब में दर्शाया था कि जो एक बवंडर मे फंसकर चांद तक पहुंच गए उन्हें इस सफ़र मे पूरे साथ दिन लगे थे मगर आज का वक्त देख लीजिए कितना बदल गया है आज रॉकेट से जाने में 2से3 दिन ही लगता है एक बात सही है कि लंबे वक्त तक कुछ वैज्ञानिक चांद के बारे में लिखते रहे है इसलिए धरती से चांद साफ नजर आता है शुक्र और मंगल नहीं । साल 2018 में कुछ कंकाल मिले थे तब यह कहा गया था कि ये एलियंस है मगर जांच मे पाया गया कि इंसान का कंकाल है कुछ सवाल यह भी है कि क्या हम ब्रम्हांड मे अकेले है अगर एलियंस है तो नजर क्यों नहीं आते है

क्या विज्ञान कभी एलियंस को तलाश कर पाएगा

विज्ञान ने एलियंस को खोजने के लिए ना जाने कितनी तकनीक का इस्तेमाल कर चुका है ।कभी दूरबीन का सहारा लेता है तो कभी अंतरिक्ष में दूरबीन या यान भेजकर तलाशने की कोशिश करता है । यहां तक कि रेडियो तरंगों के माध्यम से भी पता लगाया जा चुका है मगर अब तक कोई संदेश तक नहीं मिला और सबूत भी नहीं । इस प्रक्रिया को लगभग सौ साल हो गए है इसके बाद अलग अलग वैज्ञानिकों ने चर्चा की और बताया कि जैसा हम सोच रहे हो की एलियंस ऐसे होंगे वैसे शायद न हो । या फिर इतनी दूर हो की हमारी रेडियो तरंगे उन तक न पहुंच पा रही हो । हो सकता है ब्रम्हांड की किसी और कोने में उनका ठिकाना हो जहां तक हम पहुंच भी ना पा रहे हो । सच तो यही है कि यह सब भविष्य के गर्भ में छिपा है आखिर कोई जगह है भी की नहीं ।

Leave a Comment