Bihar Tourism : बिहार के 3 सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

बिहार सुनते ही कई लोगों के दिमाग में सिर्फ भुखमरी, गरीबी और पिछड़ापन आता है। दरसल ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ज्यादातर लोग बिहार की खूबसूरती से अनभिज्ञ हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बिहार के पांच मनमोहक जगहों के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आपका बिहार को देखने का नजरिया बदल जायेगा।

गया


बिहार में धर्म नगरी नाम से प्रख्यात गया बिहार के दूसरे सबसे बड़े शहर का नाम है। यह शहर जितना धार्मिक है उतना ही आध्यात्मिक भी है। फाल्गुन नदी के तट पर बसे इस शहर में लोग पिंड दान करने आते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार ऐसा करने से मरने वाले व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति हो जाती है। इसके अलावा यह स्थान पर्यटन के लिए काफी मशहूर है। कहा जाता है भगवान बुद्ध यहां लंबे समय तक रुके रहे, जिस वजह से इसका नाम बोध गया रखा गया। यहाँ आ कर हर कोई मंत्रमुग्ध हो जाता है।

नालंदा विश्वविद्यालय


नालंदा विश्वविद्यालय के इतिहास से हर कोई वाकिफ़ है। यहां प्राचीन समय में लोग देश विदेश से शिक्षा ग्रहण करने आते थे। बता दें, इसकी स्थापना गुप्त वंश के शासक कुमार गुप्त द्वारा कि गई थी। इसके अलावा यही वो जगह है जहां सम्राट अशोक ने सबसे ज्यादा मठ और मंदिरों का निर्माण करवाया था। इसकी इमारत में खास बात यह देखने को मिलती है कि इसे लाल पत्थर से बनवाया गया है जिसे देखने के लिए लोग देश विदेश से आते हैं। लोगों की मानें तो महात्मा बुद्ध भी यहां शिक्षा लेने आते थे। नालंदा विश्वविद्यालय देख कर आपको अपने इतिहास पर गर्व होगा।

मधुबनी

मधुबनी की गिनती बिहार के सबसे खूबसूरत शहरों में होती है। मधुबनी मिथिला संस्कृति का अंग और केंद्र बिंदू है। रामायण में इस शहर का उल्लेख मिलता है। यह शहर अपनी शानदार मधुबनी पेंटिंग के लिए पूरे विश्‍व में जाना जाता है। आपको बता दें कि सुपौल और सीतामढ़ी मधुबनी के प्रमुख व्यापारिक क्षेत्रों में से एक हैं। पर्यटक भारी संख्या में मधुबनी घूमने आते हैं। यहां के प्रमुख पर्यटन स्थलों में सौराठ, जयनगर, कपिलेश्वरनाथ, झंझरपुर, भवानीपुर और फुल्लाहर शामिल हैं।

Leave a Comment