Ashes Series- एशेज सीरीज इतनी क्यों खास है

क्रिकेट की जब शुरुआत हुई थी तो सिर्फ दो ऐसी टीमें है जो सबसे पुरानी है ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड । मजेदार बात यह भी है कि दोनों का राष्ट्रीय खेल भी क्रिकेट है मगर क्या आप जानते है कि इन दोनों देशों के बीच एक बहुत बड़ी सीरीज खेली जाती है जिसका नाम है एशेज । वैसे तो क्रिकेट की ऑफिशियल शुरुआत 1877 से मानी जाती है मगर क्रिकेट तो इंग्लैंड की धरती पर बहुत पहले से खेला जाता रहा है खैर 1877 की बात करते है जब शुरुआत हुई ।

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के दरम्यान पहला टेस्ट 15 मार्च से 19 मार्च तक खेला गया जिसमें इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 45 रनों से शिकस्त दी थी और तभी से टेस्ट क्रिकेट को एक नई दिशा और पहचान मिली । हम यह बात इसलिए कर रहे है कि आगामी 8 दिसंबर से ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच 5 टेस्ट मैचों की एशेज सीरीज खेली जाएगी । दोनों टीमें बड़ी है और एक दूसरे को खूब चुनौती देती है दोनों टीमों की मंशा यही होती है की मेहमान टीम को उसी के घर में नेस्तनाबूत किया जाए । दोनों ही टीमें जान झोंककर खेलती है

एशेज का इतिहास और राख की कहानी

Ashes Series

आखिर एशेज इतनी बड़ी सीरीज क्यों मानी जाती है उसके पीछे एक बड़ी कहानी है तो आइए जानते है उस राख की कहानी । साल 1882 मैदान इंग्लैंड का ओवल मैदान विरोधी टीम ऑस्ट्रेलिया । इंग्लैंड उस समय वह टीम थी जिसे हराना ऑस्ट्रेलिया के लिए लोहे के चने चबाने के बराबर थे मगर उस टेस्ट मे ऑस्ट्रेलियाई टीम ने जो किया उससे इंग्लैंड क्रिकेट ही नहीं बल्कि पूरा ब्रिटेन में सन्नाटा पसर गया था । दरअसल हुआ ही कुछ ऐसा था जिसकी कल्पना इंग्लैंड टीम तो क्या उस समय के क्रिकेट पंडितो ने नहीं की थी । ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को ओवल के टेस्ट में शिकस्त दे दी थी जिसके बाद इंग्लैंड की टीम की बेज्जती हो गई ।

दूसरे दिन एक ब्रिटिश अखबार द सपोर्टिंग टाइम्स में प्रकाशित एक व्यंगपूर्ण एक अभियोग उत्पन्न हुआ । क्योंकि ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट की इंग्लैंड की धरती पर पहली जीत थी उस अखबार ने लिखा इंग्लैंड क्रिकेट की मृत्यु हो गई और शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा । और उसकी राख को ऑस्ट्रेलिया ले जाया जाएगा । इसके बाद 1883 में एक सीरीज ऑस्ट्रेलिया में खेली गई । दौरे से पहले उस इंग्लैंड टीम के कप्तान इवो ब्लिग ने उस राख को फिर से हासिल करने की कसम खाई थी और फिर अंग्रेजी मीडिया ने उसे एशेज का नाम दे दिया ।

सीरीज शेड्यूल और टीमें


टेस्ट क्रिकेट की सबसे बड़ी सीरीज एशेज का बिगुल बज चुका है 8 दिसंबर से शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की ये सीरीज दोनों टीमों के किए अहम है और कोई भी टीम हारना नहीं चाहेगी । इस बार सीरीज ऑस्ट्रेलिया में खेली जाएगी । जो इंग्लैंड के लिए तो आसान नहीं होगा । क्योंकि कंगारू टीम अपने मैदान पर सब कुछ झोकं देती है इंग्लैंड ने अपनी 17 सदस्यीय टीम को घोषित किया है लगभग सभी प्रमुख खिलाड़ी शामिल है कप्तान जो रूट के कंधो पर टीम की जिम्मेदारी रहेगी तो विकेट कीपर जोश बटलर उपकप्तान की भूमिका में होंगे । बेन स्टोक्स को जगह नहीं मिली है सैम करन भी चोट के चलते बाहर है ।

कार्यक्रम पांच टेस्ट

  • पहला टेस्ट 8 -19 दिसंबर ब्रिसबेन
  • दूसरा टेस्ट 16-20 दिसंबर एडिलेड
  • तीसरा टेस्ट 26-30 दिसंबर मेलबर्न
  • चौथा टेस्ट 5-9 दिसंबर सिडनी
  • पांचवा टेस्ट 14-18 दिसंबर पर्थ

टीम इंगलैंड


जो रूट कप्तान , जोश बटलर उपकप्तान विकेट कीपर , जेम्स एंडरसन, जॉनी बैरिस्टो , डोम बेस, स्टुअर्ट ब्रॉड, रोरी बार्न्स , जैक क्रोली , हसीब हमीद , डैन लॉरेंस , जैक लीच, डेविड मलान , क्रेग ओवर्टन , ओली पोप, ओली रॉबिनसन , क्रिस वोक्स, मार्क वुड

टीम ऑस्ट्रेलिया

पैट कमिंस कप्तान , डेविस वार्नर, स्टीव स्मिथ, मार्क्स हैरिस , मर्नस लबुशेन, ट्रेविस हेड , कैमरन ग्रीन , एलेक्स कैरी विकेट कीपर , मिशेल स्टार्क , नाथन लियोन , जोश हेजलवुड

Leave a Comment