IPL 2022 : IPL से विवो का सफ़र खत्म, TATA बना नया स्पॉन्सर | TATA IPL 2022

आईपीएल के 15 वें सीजन में पहले ही दो नई टीमें शामिल होकर रोमांच को दुगना कर दिया । लेकिन अब देशी कम्पनी खुद TATA आगामी आईपीएल सीजन को स्पॉन्सर करता नजर आएगा । क्योंकि साल 2018 से चीनी कम्पनी विवो आईपीएल का स्पॉन्सर था जिसका कार्यकाल 2022 में समाप्त हो रहा है बीसीसीआई को काफी समय से एक नए स्पॉन्सर की तलाश थी जो मंगलवार को TATA के रूप में खत्म हुई । लेकिन अभी यह साफ हुआ कि नया स्पॉन्सर TATA की डील कितने में हुई है ।

बीसीसीआई और आईपीएल गवर्निंग की हुए मीटिंग

मंगलवार को आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग हुई जिसने आईपीएल चेयरमैन ब्रजेश पटेल थे उन्होंने ने जानकारी दी कि आईपीएल के लिए TATA ने स्पॉन्सरशिप खरीद ली है इसका मतलब यह हुआ कि आपको अब विवो आईपीएल की जगह TATA आईपीएल का लोगो टीवी पर नजर आएगा । क्योंकि उसका कार्यकाल 2022 से खत्म हो रहा है मीटिंग में कई कड़े फैसले भी लिए गए है ।

अहमदाबाद टीम को खरीदने वाली सीवीसी ग्रुप को लेटर ऑफ़ इंटेंट सौंपा गया है । दूसरी तरफ साल 2018 में जब विवो ने आईपीएल की स्पॉन्सरशिप खरीदी थी कम्पनी को हर साल बीसीसीआई को 440 करोड़ देने पड़ते थे एक वजह यह भी है कि पिछले साल भारत और चीन का सीमा को लेकर विवाद हुआ था जिस पर लोगों ने विवो को हटाने की मांग की थी । लेकिन सिर्फ एक साल के लिए विवो को ब्रेक लेना पड़ा था ।

राजनीति की भेंट चढ़ा विवो

जानकार मानते है कि देशभक्ति हो लेकर देश में जो देखा गया है वह किसी से छिपा नहीं है आज नहीं तो कल यह होना ही था क्योंकि सीमा विवाद को लेकर चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच झड़प हुई थी जिसमें कई भारतीय सैनिक शहीद हुए थे उसके बाद देशभर में चीनी सामान के बहिष्कार का नारा गूंजने लगा था इससे कंपनी और लीग दोनों पर बुरा असर हो रहा था । खैर अच्छी बात यह है कि आईपीएल 2022 कई मायनों में खास होने वाला है मेगा नीलामी पर सबकी नजरें बनी हुई है इस बार टाटा आईपीएल को स्पॉन्सर करेगा । कीमत अभी पता नहीं चली है ।

आईपीएल स्पॉन्सर का इतिहास

जब साल 2007 में टी 20 विश्व कप खेला गया था जिसने दुनियाभर में शोहरत बटोरी थी और इसके ललित मोदी ने बीसीसीआई से बात करके खुद की टी 20 लीग शुरू करने को कहा था तब साल 2008 में आईपीएल के पहले सीजन की शुरुआत हुई थी आइए जानते है आईपीएल में अब तक के स्पॉन्सर । मतलब डीएलएफ आइपीएल से लेकर विवो आईपीएल का लेखा जोखा।

  1. 2008-2012 DLF IPL (40 करोड रूपए प्रति साल )
  2. 2013-2015 pepsi IPL ( 79.2 करोड़ रुपए प्रति साल )
  3. 2016-2017 vivo IPL ( 100 करोड़ रुपए प्रति साल )
  4. 2018-2019 vivo IPL ( 439.8 करोड़ रुपए प्रति साल)
  5. 2020 Dream 11 IPL ( 222 करोड़ रुपए )
  6. 2021 vivo IPL (439.8 करोड़ रुपए )
  7. 2022 – TATA group

Leave a Comment