UDID Card : दिव्यांगजन को सशक्त बनाने का काम करती Unique Disability ID

भारत सरकार के पिटारे से आज हम आपके लिए एक नई योजना लेकर आए है जो दिव्यांगजन को सशक्त और मजबूत बनाने का काम करेगी । यह एक प्रोजेक्ट भी है इसमें सरकार विकलांगता का प्रमाणपत्र जारी करेगी । आइए आपको आसान भाषा में बताते है की आखिर ये UDID है क्या

क्या है UDID प्रोजेक्ट

इस प्रोजेक्ट को सरकार ने साल 2016 में लागू किया । इसमें दिव्यंगजन सशक्तिकरण विभाग ने देश के सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेश के लिए केवल UDID पोर्टल को उपयोग करके विकलांगता का प्रमाण पत्र जारी करना अनिवार्य कर दिया । अब आप UDID का अर्थ भी समझ लीजिए । Unique ID for parsan with Disabilities project है । सरकार ने यह इसलिए जारी किया क्योंकि विकलांग व्यक्तियों के लिए आईडी और प्रमाण पत्र प्रदान करना है इसमें एक राष्ट्रीय डेटा तैयार किया जाएगा । इसके अलावा विकलांग व्यक्ति को UDID पहचान पत्र जारी करना है ।

क्या है इसकी विशेषताएं

  • इस परियोजना के अंतर्गत देशभर के विकलांग व्यक्तियों का डेटा बेस तैयार होगा । साथ ही एक केंद्रीकृत वेब एप्लीकेशन भी होगा ।
  • विकलांगता प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन फार्म भरना साथ ही आवेदन पत्र जमा करना होगा
  • सरकारी और निजी अस्पतालों द्वारा विकलांगता के प्रतिशत की गणना करने की प्रक्रिया को तेज करना
  • देश के सभी विकलांग व्यक्तियों के बारे में ऑनलाइन अपडेशन और नवीनीकरण करना

योजना में शामिल विकलांगता भी समझिए

आपको बता दें कि इस परियोजना में शामिल विकलांग व्यक्ति विकलांग अधिनियम 1995 पर आधारित है ।

जैसे –

  • मस्तिष्क पक्षाघात
  • अंधापन
  • कम दृष्टि
  • मानसिक मंदता
  • मानसिक बीमारी
  • सुनने में परेशानी

इसमें भारत सरकार UDID बनाने के लिए विकलांग व्यक्ति पता सहित व्यक्ति का पूरा विवरण एकत्र करती है साथ ही रोजगार की जानकारी , पहचान और विकलांग की पूरी जानकारी एकत्र करती है ।

कैसे करे आवेदन

यूनिक आईडी बनवाने के लिए दिव्यंगजनो को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा । इसके लिए उन्हें https://www.swavlambancard.gov.in/ पर जाना होगा । इसके अलावा आप विकलांग जन सुविधा केंद्र , लोकवाणी केंद्र पर जाकर भी आवेदन कर सकते है ।

Leave a Comment