PMEGP 2022: पीएमईजीपी योजना से कारोबारियों को मिल सकती है 35 फीसदी तक सब्सिडी जानिए कैसे

पीएमईजीपी : सबसे पहले आप PMEGP का मतलब समझिए इसको प्रधानमंत्री इंप्लॉयमेंट जेनेरेशन प्रोग्राम है  इस योजना का काम जिला मुख्यालय से लोन बांटने का काम किया जाता है । आपको बता दें कि सरकार ने PMEGP के क्षेत्रों को शहरी और ग्रामीण दो भागों में बांटा है अगर आप एक कारोबारी है तो आपके लिए यह योजना फायदेमंद साबित होगी । इस योजना के तहत सरकार 35 फीसदी तक सब्सिडी देने का काम करती है जिससे कारोबार करने वाले व्यापारियों पर अधिक बोझ नहीं पड़ता और कारोबार करने में सहायता मिलती है ।

PMEGP क्या है

यह एक सरकारी योजना है जिसका लाभ सिर्फ देश के कारोबारियों को मिलेगा । प्रधानमंत्री इंप्लॉयमेंट जेनेरेशन प्रोग्राम केंद्र सरकार की स्वरोजगार योजना है इस योजना के तहत उद्योग लगाने पर 25 लाख रुपए और सेवा क्षेत्र में निवेश कर 10 रूपये तक कर्ज मिलता है आपको बता दें कि अगर आप PMEGP के तहत लोन लेते है साथ ही आप सामान्य जाति के आवेदक है तो आपको लोन कि रकम पर 15% और आरक्षित जाति के आवेदकों को 25% तक की सब्सिडी मिलती है जिससे कारोबारियों को मदद मिलती है

क्या है इसका उद्देश्य

केंद्र सरकार PMEGP की योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि इस योजना के माध्यम से देश के युवाओं में स्वरोजगार को बढ़ावा देना है सरकार का मकसद है कि लोग शहरी, ग्रामीण, और कस्बों में इस योजना के तहत छोटे छोटे कारोबार को शुरू कर अपना जीवनयापन शुरू कर भविष्य संवार सकते है साथ ही कुछ लोगों को अपने छोटे कारोबार में काम देकर उनको रोजगार दे सकते है आप 10 लाख की रकम से शुरू होने वाले कारोबार में सिर्फ 10% रकम और एक लाख का इंतजाम कर सरकार से पूरे 90 फीसदी रकम लोन ले सकते है

PMEGP की मुख्य बातें

आपको बता दें कि शहरी क्षेत्रों में PMEGP योजना के लिए नोडल एजेंसी जिला उद्योग केन्द्र है वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के लिए खड़ी एवम ग्रामोधोग बोर्ड मतलब KVIC में सम्पर्क कर सकते है इस योजना का लाभ लेने के लिए आपका भारतीय होना जरूरी है साथ ही अगर आप 18 साल से अधिक उम्र के है और 8वीं पास है तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते है आपको शुरू लिए गए नए प्रोजेक्ट कर इस स्कीम का लाभ मिलेगा । इसके लिए सेल्फ हेल्प ग्रुप यानी SHG जो किसी अन्य योजना में मदद नहीं ले पा रहे वो भी आवेदन कर सकते है

Leave a Comment