PMFBY 2022 : जानिये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana 2022 : भारत एक कृषि प्रधान देश है। भारत की तरक्की किसानों की तरक्की पर एक हद तक निर्भर करती है। भारत सरकार ने किसानों को सशक्त करने के लिए और आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना को लागू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य था किसानों की फसल के संबंध में अनिश्चितताओं को दूर करना। यह योजना, किसानों की फसल को प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुई हानि को किसानों के प्रीमियम का भुगतान देकर एक सीमा तक कम करायेगी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत, किसानों को बीमा कम्पनियों द्वारा निश्चित, खरीफ की फसल के लिये 2% प्रीमियम और रबी की फसल के लिये 1.5% प्रीमियम का भुगतान किया जायेगा।

यह अहम बातें भी जान लीजिये –

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत देश के सभी किसान योजना का लाभ ले सकते है।
  • यदि किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदा के कारण नष्ट हो जाती है तो सरकार द्वारा किसानो को मुआवजा दिया जायेगा।
  • सरकार के द्वारा ये मुआवजा सीधे किसान के खाते में ट्रांसफर किये जायेंगे। इसके लिए आपको किसी भी दफ्तर जाने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत किसान को 2 लाख तक का बीमा मिलेगा।
  • फसल खराब होने के कारण अब किसानो को आत्महत्या नहीं करनी पड़ेगी। सरकार किसानो को आर्थिक मुआवजा प्रदान करेगी।
  • बहुत ही कम ब्याज पर किसान ऋण चुका सकते हैं।
  • प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिलेगा जिनकी प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों को नुकसान पहुंचा है। यदि कोई व्यक्ति फसलों को हानि पहुंचाता है तो उसे इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

पीएम फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिए कौन कौन से दस्तावेज़ों की जरूरत पड़ेगी?

  1. राशन कार्ड
  2. आधार कार्ड
  3. बैंक खाता नंबर जो आधार से लिंक हो
  4. पहचान पत्र
  5. किसान का एक पासपोर्ट साइज फोटो
  6. खेत का खसरा नंबर
  7. किसान का निवास प्रमाण पत्र
  8. अगर खेत किराये पर लिया गया है तो खेत के मालिक के साथ इकरार नामा की फोटो कॉपी
  9. किसान द्वारा फसल बुवाई शुरू किये हुए दिन की तारीख

इन सवालों के जवाब भी जान लीजिये

सवाल – प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत कब हुई थी?

जवाब – नरेन्द्र मोदी की कैबिनेट ने 13 जनवरी 2016 को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को मंजूरी दे दी थी।

सवाल – इस योजना के लाभार्थी कौन होंगे?
जवाब – देश के किसान

सवाल – इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?
जवाबvotarportal.eci.gov.in

सवाल – यह योजना किस विभाग के अंतर्गत आती है?
जवाब – मिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर।

Leave a Comment