WHAT IS PROFIT AND LOSS : क्या होता है प्रॉफिट और लाभ , जानिए इनके लक्षण , पूरी जानकारी

 

प्रॉफिट एंड लॉस : दोस्तों प्रॉफिट और लॉस क्या होता है इसे समझाने की जरूरत नहीं है आपमें से ज्यादातर लोग इससे अच्छी तरह वाकिफ है । फिर भी हम आपको अपने इस आर्टिकल में प्रॉफिट और लॉस से जुड़ी जानकारी साझा करेंगे । साथ ही यह भी बताएंगे कि इनके लक्षण क्या है ।

क्या होता है प्रॉफिट  

सामान्यतौर पर लोग बोलचाल में प्रॉफिट ही बोलते है  लेकिन इसको हिंदी में शुद्ध लाभ बोला जाता है किसी कम्पनी में लगाए गए मूल धन से अधिक वृद्धि के साथ कम्पनी को धन अर्जित होता है उसे प्रॉफिट या लाभ कहते है । उदाहरण , मान लीजिए किसी कम्पनी में आपने एक लाख रुपए इन्वेस्ट किए है इसमें कर्मचारियों और सामान लाने , ले जाने का खर्च भी शामिल होता है इसके बाद मार्केट में एक लाख से अधिक रूपये में सामान की बिक्री होती है उसे लाभ मान लिया जाता है वह लाभ मूल धन से एक रूपये अधिक भी हुआ तो उसे लाभ ही कहा जाएगा ।

क्या होता है लॉस

लॉस को हिंदी में शुद्ध हानि बोलते है किसी भी कम्पनी या शेयर मार्केट में लगाया गया पैसा में अगर मतलब मूल धन में से कम पैसा प्राप्त होता है तो उसे शुद्ध हानि कहते है । उदाहरण , मान लीजिए शेयर बाजार में हम दो लाख निवेश करते है लेकिन मार्केट में उतार चढ़ाव की वजह से लगाया गया मूल धन नहीं मिलता उसे शुद्ध हानि कहा जाता है ।

क्या होता है लाभ – हानि लेखा

लाभ और हानि एक वित्तीय लेखा है जिसमें सभी प्राप्तियों और हानि एक क्रम में एकत्र कर लिया जाता। जिससे बाद में सुनिश्चित हो सके की फार्म लाभ में है या हानि में है इसमें किसी भी प्रकार के काम का लेखा हो सकता है । उदाहरण , बुक डिपो, किराना दुकान, वेतन, किराया , टैक्स आदि।

लाभ / हानि लेखा के प्रमुख लक्षण और आवश्यकता

* इसे लेखा शुरुआत करने का दूसरा चरण कहा जाता है 
* यह एक निश्चित समय अवधि के लिए होता है 
* इस लेखा के तैयार होने से लेखा चरण और उपचयाधार बनते है 
* लाभ और हानि के लिए एक लेखा रजिस्टर तैयार होता है , जिसमें लाभ और हानि दोनों की जानकारी होती है 
* एक अन्य लेखा रजिस्टर में लाभ को अलग और हानि को अलग उल्लेख किया जाता है ।
* शुद्ध लाभ और हानि से स्वामी की पूंजी में वृद्धि और कमी होती है 
* लेखा की जरूरत इसलिए होती है कि हम लाभ और हानि की संपूर्ण जानकारी एक जगह एकत्रित कर सके ।
* इससे खर्चे नियंत्रण किए जा सकते है ।

 

Leave a Comment